शेयर बाजार : मिडकैप स्मॉलकैप में आई तेजी

बीते सप्ताह सकारात्मक वैश्विक संकेतों के कारण सेंसेक्स और निफ्टी में Indian Stock Market Tips| Commodity Trading Tips| Share Market Tips| Mcx Tips| Nifty Future Trading Tipsप्रभावशाली बढ़ोतरी देखी गई। वहीं, मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांक में सबसे अधिक तेजी दर्ज की गई। बाजार पर भारत और चीन के बीच डोकलाम विवाद के समाधान का भी सकारात्मक असर पड़ा।

साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स 296.17 अंकों या 0.93 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 31,892.23 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 117.35 अंकों या 1.19 फीसदी की वृद्धि के साथ 9,974.40 पर बंद हुआ मिडकैप सूचकांक में 2.84 फीसदी और स्मॉलकैप में 3.09 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई।

सोमवार को सेंसेक्स में 154.76 अंकों या 0.49 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई और यह 31,750.82 पर बंद हुआ।

मंगलवार को सेंसेक्स 362.43 अंकों या 1.14 फीसदी की गिरावट के साथ 31,388.39 पर बंद हुआ।

बुधवार को सेंसेक्स में फिर तेजी लौटी और यह 258.07 अंकों या 0.82 फीसदी की तेजी के साथ 31.646.46 पर बंद हुआ।

सेसेक्स गुरुवार को 84.03 अंकों या 0.27 फीसदी की तेजी के साथ 31,730.49 पर बंद हुआ

जबकि शुक्रवार को यह 161.74 अंकों या 0.51 फीसदी की तेजी के साथ 31,892.23 पर बंद हुआ।

इस सप्ताह सेंसेक्स के तेजी वाले शेयरों में प्रमुख रहे– इंफोसिस (0.83 फीसदी), विप्रो (2.49 फीसदी), डॉ. रेड्डी (6.2 फीसदी), ल्यूपिन (0.18 फीसदी), मारुति सुजुकी इंडिया (2.77 फीसदी), टाटा मोटर्स (1.74 फीसदी), बजाज ऑटो (6.74 फीसदी), रिलायंस इंडस्ट्रीज (2.68 फीसदी) और एलएंडटी (0.74 फीसदी)।

सेंसेक्स के गिरावट वाले शेयरों में प्रमुख रहे- महिंद्रा एंड महिंद्रा (1.96 फीसदी), भारती एयरटेल (2.4 फीसदी) और एनटीपीसी (0.59 फीसदी)।

व्यापक आर्थिक आंकड़ों के मोर्चे पर, देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की विकास दर में चालू वित्त वर्ष की जून में खत्म हुई तिमाही के दौरान गिरावट दर्ज की गई और यह वित्त वर्ष 2016-17 की चौथी तिमाही में दर्ज 6.1 फीसदी से घटकर 5.7 फीसदी पर आ गई, जबकि एक साल पहले की समान अवधि में यह 7.9 फीसदी थी।

 

For more Latest Live Indian Stock Market News and free bullion trading tips just click here www.marketmagnify.com or give a One Missed Call @ 787-988-1122.