निफ्टी 9900 के ऊपर बंद, सेंसेक्स 32000 के पार

fUSn8czV78fzशुरुआती कारोबार के दौरान बाजार में अच्छी बढ़त दिखी थी, लेकिन दोपहर के कारोबार में दबाव दिखा। हालांकि, कारोबारी सत्र के आखिरी घंटे के दौरान रिकवरी देखने को मिली और अंत में बाजार हरे निशान में बंद होने में कामयाब हुए। सेंसेक्स और निफ्टी करीब 0.5 फीसदी बढ़कर बंद हुए हैं। निफ्टी 9900 के ऊपर बंद हुआ है, तो सेंसेक्स भी 32000 के ऊपर बंद हुआ है।

मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में आज दबाव देखने को मिला है। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स सपाट होकर 15185 के स्तर पर बंद हुआ है, जबकि दिन के कारोबार में मिडकैप इंडेक्स 15235 के स्तर तक पहुंचा था। निफ्टी के मिडकैप 100 इंडेक्स में 0.15 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स सपाट होकर बंद हुआ है।

आईटी, मीडिया, कंज्यूमर ड्युरेबल्स और ऑयल एंड गैस शेयरों में अच्छी खरीदारी देखने को मिली है। निफ्टी के आईटी इंडेक्स में 2.1 फीसदी और मीडिया इंडेक्स में 1 फीसदी की मजबूती आई है। बीएसई के कंज्यूमर ड्युरेबल्स इंडेक्स में 1.1 फीसदी और ऑयल एंड गैस इंडेक्स में 1 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है।

यदि आप हमारे साथ शेयर मार्किट मैं व्यापार करना चाहते हैं अधिक जानकारी के लिए हमारी साइट पर जाएँ  www.marketmagnify.com मिस्ड कॉल करे :- 7879881122

 

Save

सेंसेक्स-निफ्टी सुस्त, आईटी शेयरों में खरीदारी

nifty-technical-analysis1अच्छी बढ़त के साथ शुरुआत करने के बाद घरेलू बाजारों में सुस्ती छा गई है। सेंसेक्स और निफ्टी की चाल सुस्त नजर आ रही है। शुरुआती कारोबार में निफ्टी ने 9899.95 तक दस्तक दी, तो सेंसेक्स 32035.88 तक पहुंचा था। इस समय निफ्टी 9880 के आसपास है, तो सेंसेक्स 32000 के नीचे फिसल गया है।

 

मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में हल्की खरीदारी देखने को मिल रही है। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.2 फीसदी तक बढ़ा है, जबकि निफ्टी के मिडकैप 100 इंडेक्स में 0.15 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 0.25 फीसदी तक मजबूत हुआ है।

आईटी, मीडिया, रियल्टी, ऑयल एंड गैस और कंज्यूमर ड्युरेबल्स शेयरों में खरीदारी आई है। निफ्टी का आईटी इंडेक्स 1.25 फीसदी तक मजबूत हुआ है। हालांकि बैंकिंग और फार्मा शेयरों में बिकवाली देखने को मिल रही है। बैंक निफ्टी 0.25 फीसदी लुढ़ककर 24,156 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। निफ्टी का फार्मा इंडेक्स 0.5 फीसदी से ज्यादा कमजोर हुआ है।

फिलहाल बीएसई का 30 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 42 अंक यानि 0.15 फीसदी तक बढ़कर 31,946 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। वहीं, एनएसई का 50 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 11.5 अंक यानि 0.15 फीसदी की तेजी के साथ 9,885 के स्तर पर कारोबार कर रहा है।बाजार में कारोबार के इस दौरान दिग्गज शेयरों में विप्रो, एचसीएल टेक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, जी एंटरटेनमेंट, टेक महिंद्रा, इंफोसिस, एनटीपीसी और कोल इंडिया 7.8-0.6 फीसदी तक बढ़े हैं। हालांकि दिग्गज शेयरों में ल्यूपिन, भारती एयरटेल, ओएनजीसी, सिप्ला, बीपीसीएल और कोटक महिंद्रा बैंक 2.2-0.5 फीसदी तक गिरे हैं।

 

For Daily Equity Market Update or Share Market News visit www.marketmagnify.com or missed call 7879881122.

Wall Street at new highs as tech breaches dot-com era record

The major US stock indexes closed at record highs on Wednesday helped partly by technology stocks, which surpassed a long-standing mark, despite gains on the Dow being capped by a sharp drop in IBM shares.

The S&P 500wall-street_1 tech sector broke its previous record closing high that had held since March 2000 in the midst of the dot-com and Y2K tech stocks bubble. It has been the best-performing sector this year with a 22.8 percent advance.

Vertex jumped as much as 26.4 percent to an all-time high of $167, a day after it reported positive results for its cystic fibrosis treatment. The stock ended up 20.8 percent at $159.69 and was the biggest boost on the S&P and the Nasdaq.

More Profit Miss Call This No 7879881122 And Earn Money In Commodity Market to click here https://www.marketmagnify.com

कैसे रहेंगे एसीसी, जुबिलैंट फूड के नतीजे

aww

                     एसीसी

सीएनबीसी-आवाज़ के अनुमान के मुताबिक साल 2017 की दूसरी तिमाही में एसीसी का मुनाफा 18 फीसदी बढ़कर 282 करोड़ रुपये रह सकता है। साल 2016 की दूसरी तिमाही में एसीसी का मुनाफा 239 करोड़ रुपये रहा था।

साल 2017 की दूसरी तिमाही में एसीसी की आय 11.6 फीसदी बढ़कर 3255 करोड़ रुपये रह सकती है। साल 2016 की दूसरी तिमाही में एसीसी की आय 2917 करोड़ रुपये रही थी।

सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में एसीसी का ऑपरेटिंग मुनाफा 457 करोड़ रुपये से घटकर 501 करोड़ रुपये रहने का अनुमान है। सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में एसीसी का ऑपरेटिंग मार्जिन 15.7 फीसदी से घटकर 15.4 फीसदी रहने का अनुमान है।

                     जुबिलैंट फूड

सीएनबीसी-आवाज़ के अनुमान के मुताबिक वित्त वर्ष 2018 की पहली तिमाही में जुबिलैंट फूड का मुनाफा 5.9 फीसदी बढ़कर 20.1 करोड़ रुपये रह सकता है। वित्त वर्ष 2017 की पहली तिमाही में जुबिलैंट फूड का मुनाफा 19 करोड़ रुपये रहा था।

वित्त वर्ष 2018 की पहली तिमाही में जुबिलैंट फूड की आय 6.3 फीसदी बढ़कर 647.5 करोड़ रुपये रह सकती है। वित्त वर्ष 2017 की पहली तिमाही में जुबिलैंट फूड की आय 608.9 करोड़ रुपये रही थी।

सालाना आधार पर अप्रैल-जून तिमाही में जुबिलैंट फूड का एबिटडा 57.7 करोड़ रुपये से बढ़कर 67.3 करोड़ रुपये रहने का अनुमान है। सालाना आधार पर अप्रैल-जून तिमाही में जुबिलैंट फूड का एबिटडा मार्जिन 9.5 फीसदी से बढ़कर 10.4 फीसदी रहने का अनुमान है।

More Share Market News & Call Click here  https://www.marketmagnify.com  or Just Give a Missed call @7879881122.

Save

1 2 3 39